टाइफाइड में न करे इन चीजों का सेवन, आंतों में सूजन बढ़ने का रहता है खतरा

 

टाइफाइड बुखार को मोतीझरा, मौक्तिक, मियादी बुखार जैसे कई नामों से जाना जाता है। यह रोग साल्मोनेला टाइफी नाम बैक्टीरिया से होता है। जिसमें आपकी आंत सबसे ज्यादा प्रभावित होती है।

आमतौर पर ये रोग दूषित पानी और खाने के द्वारा फैलता है। टाइफाइड में अपनी डाइट का विशेष ध्यान रखना पड़ता है। जिससे कि इस बीमारी से जल्द से जल्द छुटकारा पाया जा सके। जानिए टाइफाइड के मरीजों को किन चीजों का सेवन नहीं नहीं करना चाहिए। इसके साथ ही जानिए कौन से फूड है फायदेमंद।

टाइफाइड में न करे इन चीजों का सेवन

हाई फाइबर फूड

साबुत अनाज अनाज और गेहूं की रोटी जैसे खाद्य पदार्थ पाचन तंत्र को परेशान कर सकते हैं क्योंकि यह जल्दी नहीं पचते है। इसलिए ऐसी चीजों का सेवन न करे। जिनमें अधिक मात्रा में फाइबर पाया जाता हो।

ऑयली फूड
टाइफाइड बुखार के दौरान ऑयली चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए। इससे आपकी बीमारी और बढ़ सकती है।

 

मसाले
तैलीय भोजन, मसाले, मौसमी और एसिटिक एसिड युक्त खाद्य पदार्थों की तरह ही आंतों में सूजन बढ़ सकती है। इसलिए मिर्च, काली मिर्च, केयेन, सिरका, गर्म सॉस, सलाद ड्रेसिंग, डिब्बाबंद फल और सब्जियों जैसे खाद्य पदार्थों से बचने की सलाह दी जाती है।

कच्ची सब्जियां
गोभी, शिमला मिर्च, शलजम जैसी सब्जियों को खाने से बचना चाहिए। क्योंकि यह सूजन का कारण बन सकती हैं।

 

 

 

टाइफाइड के मरीज भूलकर भी न करें इन चीजों का सेवन, बढ़ सकती है आंतों में सूजन

 

टाइफाइड के मरीज करे इन फूड्स का सेवन

हाई कैलोरी वाले फूड्स का सेवन
उच्च कैलोरी वाले फूड टाइफाइड के मरीजों के लिए फायदेमंद हो सकते हैं। इसलिए उबले हुए आलू, केले, उबले हुए चावल, पास्ता, सफेद ब्रेड आदि का सेवन करे। इससे आको ताकत और ऊर्जा मिलेगी।

लिक्विड चीजें और ताजे फल
अधिक से अधिक लिक्विड चीजों का सेवन करे। इसमें आप ताजे फलों के रस, नारियल पानी, चूने का रस, छाछ, सब्जी शोरबा का सेवन कर सकते हैं। पानी की मात्रा से भरपूर फल जैसे कि तरबूज, कैंटालूप्स, अंगूर, खुबानी को आहार में शामिल करें। ये तरल पदार्थ और फल शरीर में पानी की मात्रा को बहाल करने में मदद करते हैं जो टाइफाइड बुखार के दौरान नष्ट हो जाते हैं और आपका शरीर अच्छी तरह से हाइड्रेट भी रहेगा।

कार्बोहाइड्रेट से भरपूर फूड्स
दलिया, अंडे, पके हुए आलू पचाने में आसान होते हैं, और ये स्वस्थ कार्ब्स टाइफाइड के रोगी के लिए फायदेमंद होते हैं।

डेयरी प्रोडक्ट्स
दही, दूध और अंडे जैसे डेयरी प्रोडक्ट्स शरीर में पर्याप्त प्रोटीन प्रदान करते है। जो आसानी से पचाएं जा सकते है। वहीं शाकाहारी लोग अपनी प्रोटीन आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए फलियां, दाल, पनीर का सेवन कर सकते हैं।

Ad