यह है नकली दूध की पहचान का तरीका

वर्तमान समय में ऐसे कई मामले सामने आ रहे हैं, जिनमें ब्रांडेड दूध भी मिलावटी निकलता है। यही कारण है कि आज हम आपको नकली दूध की पहचान का तरीका बताने जा रहें हैं। दूध का कारोबार आज देश में बहुत ज्यादा बढ़ चुका है। बहुत सी कंपनियां वैसे तो अपने दूध के असली तथा शुद्ध होने की बात करती हैं लेकिन कई ऐसे मामले सामने आये हैं, जिनमें कई ब्रांडेड कंपनियों का दूध नकली पाया गया है। ऐसे में यह जानना बहुत जरुरी हो जाता है कि आप जिस दूध का सेवन कर रहें हैं वह असली है या नकली। आइये जानते हैं नकली दूध की पहचान का तरीका।

 

credit: third party image reference

 

यह है नकली दूध की पहचान का तरीका – असली दूध तथा नकली दूध की पहचान के कई संकेत होते हैं। आज हम आपको यहां उन्हीं के बारे में बता रहें हैं। आपको बता दें कि यदि आप असली दूध को अपने हाथों के बीच में रगड़ते हैं तो हाथों में किसी प्रकार की चिकनाहट महसूस नहीं होती है लेकिन यदि नकली दूध को आप अपने हाथों के बीच रगड़ते हैं तो आपको डिटर्जेंट जैसी चिकनाहट महसूस होती है। इसके अलावा जो असली दूध होता है उसमें नार्मल झाग बनता है लेकिन नकली दूध में एक्स्ट्राऑर्डनरी झाग बनता साफ दिखाई पड़ता है।

credit: third party image reference

 

यह हो सकती है सजा – यदि कोई कंपनी नकली दूध बनाती है तो उसके इस कार्य के लिए कानून में सजा का प्रावधान है। आपको जानकारी दे दें कि दूध की गुणवत्ता के खराब निकलने पर दोषी पर 5 हजार से 5 लाख तक का जुर्माना हो सकता है। यदि दूध में कोई इस प्रकार की वस्तु हो जो स्वास्थ्य को आपकी सेहत को खराब कर सकती है तो दूध वाले को 6 माह से 3 वर्ष की सजा हो सकती है। इसके अलावा यदि दूध में कोई जानलेवा वस्तु मिलती है तो दूध निर्माता को आजीवन सजा का प्रावधान भी है।

credit: third party image reference

Ad