शादी के एक साल बाद राजीनामा, अब 20 दिन पति और 10 दिन ससुराल में रहेगी सिपाही की पत्नी

शादी के एक साल बाद भी सिपाही पत्नी को साथ नहीं रख रहा था। पत्नी ने कई बार पति से साथ रहने की जिद की। बात नहीं बनी तो वह पुलिस के पास पहुंच गई। पति की शिकायत करने पर मामला परिवार परामर्श केंद्र भेजा गया। यहां सिपाही को पत्नी के साथ रहने शर्त माननी पड़ी, जिसके बाद सुलह हो सकी।

परिवार परामर्श केंद्र में पहुंचा मामला

पुलिस लाइन में रविवार को परिवार परामर्श केंद्र में पति-पत्नी का मामला पहुंचा। पत्नी ने काउंसलर को बताया कि उसकी शादी एक वर्ष पहले हुई है। पति पुलिस विभाग में सिपाही है। उसे अपने साथ नहीं रखते हैं। शादी के बाद से वह सास-ससुर के साथ रह रही है। पति से कई बार अपने साथ रखने की कहा, लेकिन वह हर बार मना कर देता है। पत्नी का कहना था कि पति जहां पर तैनात रहेगा, वह भी वहीं रहेगी।

वहीं, सिपाही पति का काउंसलर से कहना था कि विभाग में एक थाने से दूसरे थाने स्थानांतरण होता रहता है। उसने पत्नी को परेशानी न हो इसलिए अपने माता-पिता के पास रखा है। जिससे उनकी देखभाल भी होती रहेगी, पत्नी को भी उसके साथ नहीं भागना पड़़ेगा। जबकि पत्नी सिपाही के साथ ही रहना चाहती थी। काउंसलर के समझाने पर दंपती में इस बात पर सुलह हुई कि पत्नी महीने में 20 दिन पति के साथ रहेगी, दस दिन वह ससुराल में रहेगी।

Ad