किच्छा : महिला को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोपित फसबुक प्रेमी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

ऊधमसिंहनगर पुलिस ने महिला को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोपित प्रेमी को पुलिस ने गुजरात से गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक आरोपित बेहद शातिर हैं और अपनी पहचान छिपाने के लिए उसने अपना सिर भी मुड़वा लिया था। बाद में पुलिस ने उसे कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है।

एसपी सिटी मनोज कुमार कत्याल ने बताया कि 25 जुलाई को किच्छा में महिला ने आत्महत्या कर ली थी। इस मामले में 27 जुलाई को मृतका के पति बंगाली कालोनी किच्छा निवासी मनोज कुमार शर्मा ने तहरीर सौंपते हुए रितेश साहनी को इसके लिए जिम्मेदार ठहराते हुए कार्रवाई की मांग की थी।

इस पर जांच एसआइ बसंत कुमार को सौंप दी गई थी। जिसके बाद सीओ सितारगंज ओमप्रकाश और निरीक्षक किच्छा धीरज कुमार की अगुवाई में पुलिस टीम रितेश साहनी की तलाश में जुट गई थी। जांच के दौरान रितेश की मोबाइल लोकेशन मुंबई में मिली। जहां पुलिस टीम पहुंची तो फिर उसकी लोकेशन वापी जिला बल्साड़ गुजरात में मिली।

जिसके बाद पुलिस टीम गुजरात के वापी थाना डुगरी जिला बल्साड़ पहुंची और ग्राम हालपुर थाना बासडिह जिला बलिया उत्तर प्रदेश निवासी रितेश साहनी पुत्र पंचदेव साहनी को गिरफ्तार कर लिया। एसपी सिटी मनोज कुमार कत्याल ने बताया कि पूछताछ में रितेश साहनी ने बताया कि मृतका अंजली शर्मा उर्फ मुन्नी शर्मा उसके गांव के पास सिमरी की रहने वाली थी।

फेसबुक से हुई दोस़्ती, रिलेशनशिप में रहते थे साथ

अंजलि से एक साल पहले रितेश साहनी की दोस्ती फेसबुक के माध्यम से हुई थी। जिसके बाद दोनों रिलेशनशिप में रह रहे थे। जब भी उसका पति बाहर जाता तो वह उसके घर बंगाली कालोनी किच्छा आ जाता था। 15 जुलाई 2022 को अंजलि अपने घर किच्छा से दिल्ली आई। उस रात दोनों नोएडा के एक होटल में रुके।

साथ रहने से इनकार करन पर अंजली ने की खुदकुशी

दूसरे दिन अंजलि से उसका मन मुटाव हो गया और वह वापस अपने घर किच्छा आ गई। इस दौरान उसने अंजलि को साथ रहने से इंकार कर दिया था, जिस पर उसने 25 जुलाई को आत्महत्या कर ली। इसका पता चलते ही वह डर गया और भागकर मुंबई आ गया। 10-15 दिन तक रहने के बाद वह गुजरात आया और अपनी पहचान छिपाकर रहने लगा। इसके लिए उसने अपना सिर भी मुड़वा लिया था।

Ad