चूहा मारने वाली दवा खाने से दो वर्षीय मासूम की मौत 

खबर शेयर करें -

हल्द्वानी:  हल्द्वानी की जीतपुर नेगी गांव में चूहा मारने की दवा खाने से 2 वर्षीय मासूम की मौत हो गई। जिससे उसके परिजनों में कोहराम मचा है। प्राप्त समाचार के अनुसार मूल रूप से पीलीभीत निवासी धर्मेंद्र मौर्य अपने परिवार के साथ जीतपुर नेगी में रहता है। राजमिस्त्री का कार्य कर अपने परिवार का भरण पोषण करता है। जिसने घर में आटे की आटे की गोली बनाकर चूहा मारने वाली दवा रखी थी। सोमवार को धर्मेंद्र मौर्य के दो वर्षीय मासूम पुत्र तन्मय मौर्य को खेलते खेलते जमीन में आटे की गोली पड़ी देखी तो उसने उसे खा लिया। जिससे उसकी हालत बिगड़ने लगी। परिजनों द्वारा उसे हल्द्वानी की सुशीला तिवारी चिकित्सालय में भर्ती किया गया। देर रात उपचार के दौरान मासूम की मौत हो गई। जिससे उसके परिजनों में कोहराम मचा है। बताया जा रहा है कि मूलरूप से पीलीभीत का रहने वाला परिवार जीतपुर नेगी में किराए में रहता है।