पहली बार दिवाली के अगले दिन नहीं मनाई जाएगी गोवर्धन पूजा, टूटेगी सदियों की परंपरा, जानें वजह

हिन्दू धर्म में तिथि और परंपराओं का बहुत महत्व है. हम जानते हैं कि दीपावली के अगले दिन गोवर्धन पूजा और अन्नकूट महोत्सव होता है. हालांकि, इस साल ऐसा नहीं होगा. यह बात जरा हैरान करने वाली है, लेकिन सही है. इस साल सदियों पुरानी परंपरा टूटने वाली है और दीपावली के अगले दिन गोवर्धन पूजा नहीं की जानी है. इसकी वजह है खंडग्रास सूर्यग्रहण.

25 अक्टूबर को नहीं होगी गोवर्धन पूजा
भगवान को बाजरा, चावल, मूंग और मोठ सहित कई तरह के व्यंजनों का भोग लगाए जाने वाला यह त्योहार दिवाली के अगले दिन नहीं होगा. इस बार कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी युक्त प्रदोष व्यापिनी अमावस्या 24 अक्टूबर को पड़ रही है. मतलब यह तो तय है कि दिवाली 24 अक्टूबर को ही मनाई जाएगी. लेकिन, इसके अलगे दिन यानी 25 अक्टूबर को खंडग्रास सूर्यग्रहण पड़ रहा है. इसके चलते 25 अक्टूबर को गोवर्धन पूजा नहीं होगी.

25 अक्टूबर को नहीं मनेंगे ये त्योहार
इसके अलावा, भगवान को अन्नकूट का भोग भी नहीं लगाया जा सकेगा. ऐसे में इस दिन न गोवर्धन पूजा होगी और न ही ठाकुरजी को अन्नकूट का भोग लगेगा.

इतने बजे से लग रहा है सूर्यग्रहण
बताया जा रहा है कि 25 अक्टूबर की शाम 4.32 पर सूर्यग्रहण की शुरुआत होगी. यह ग्रहण सूर्यास्त के बाद शाम 6.32 तक रहेगा. सूर्य इससे पहले शाम 5.50 पर ही अस्त हो जाएगा. वहीं, सूर्योदय से पहले तड़के 4.15 पर सूर्यग्रहण का सूतक लग जाएगा.

कब मनाया जाएगा अन्नकूट
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जयपुर के नाथद्वारा (राजसमंद) के श्रीनाथजी मंदिर में इस बार सूर्यग्रहण की वजह से अन्नकूट महोत्सव 25 को नहीं मनाया जाने वाला है. इस बार दिवाली के आठ दिन बाद गोपाष्टमी और अक्षय नवमी को अन्नकूट का पर्व मनाया जाएगा.

Ad