पुलिस की गिरफ्त में आए एटीएम से 16 लाख रुपये का गबन करने वाले 

काशीपुर: एटीएम मैं पैसे डालने के नाम पर लाखों रुपए के गबन करने का कोतवाली पुलिस ने खुलासा कर दिया है। एटीएम में पैसे डालने वाले कस्टोडियन ने ही अपने चार अन्य साथियों से मिलकर पैसों का गबन किया। आरोपी के पास से 10 नगद समेत तमाम सामान बरामद किया है।

बैंकों एटीएम में पैसे डालने का काम करने वाली सीएमएस कंपनी के प्रबंधक विजय सिंह ने गत 22 फरवरी को पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई थी जिसमें उन्होंने कंपनी के कर्मचारी देवेश यादव व वैभव भारद्वाज पर गबन का आरोप लगाया था। पैसों का गबन इतनी सफाई से किया गया कि तुरंत मामला पकड़ में नहीं आ सका। और जब आरोपी नौकरी छोड़ कर चले गए तब जाकर मामले का पता लग सका।

घटना का खुलासा करते हुए एसपी प्रमोद कुमार ने पुलिस ने मुरादाबाद रोड पर एक कार थाना साकिब निवासी देवेश यादव, मध्य प्रदेश के ग्वालियर जनपद अभिमन्यु, उमेश के साथ ही पश्चिमी दिल्ली के पालम कॉलोनी निवासी ओमपाल, मेरठ के थाना खरदौरा निवासी रवि कुमार व मध्य प्रदेश के गांव पहुंची निवासी रवि कुमार को गिरफ्तार किया। जिनके पास से 10 लाख रुपए की नगदी, एक कार दो बेड समेत तमाम सामान बरामद किया गया। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि कस्टोडियन देवेश यादव एटीएम में रुपए जमा करने जाता था और एटीएम को हाफ़ प्लाट करके छोड़ देता था। जब सीएमएस कंपनी की टीम पैसे जमा कर वापस जाती थी। पूवर अपने साथियों को एटीएम में बुलाता था और पैसे निकाल कर चले जाते थे। जबकि होम पाल का काम एटीएम को हैक कर निकाली गई धनराशि को करंट बैलेंस से मैच कर देता था। जिस कारण तत्काल पैसे गबन होने का पता नहीं चलता था।

Ad