“पैसे कौन देगा?” – मर्डर के दिन इस बात पर हुआ था आफताब और श्रद्धा में झगड़ा!

श्रद्धा वालकर हत्याकांड में अब तक कई खुलासे हो चुके हैं. पुलिस के मुताबिक़, आरोपी ने अपराध क़बूल भी कर लिया है. क्या, कब और कैसे की ज़्यादातर जानकारी सामने आ चुकी है.

आरोपी आफ़ताब पूनावाला ने सबूत मिटाने के लिए क्या-क्या किया से लेकर श्रद्धा और आफ़ताब की कहानी की पूरी टाइमलाइन तक. अब पुलिस की जांच में ‘मोटिव’ को लेकर कुछ ग़ौरतलब बातें सामने आई हैं. इन बातों को देखकर पुलिस ने आफ़ताब का नार्को टेस्क करने के लिए कोर्ट में अपील डाली थी, जिसे मंज़ूरी मिल गई है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक़, आफ़ताब पूनावाला ने पुलिस को बताया कि पैसों की कमी की वजह से दोनों के बीच झगड़ा होता रहता था. पुलिस का कहना है कि उनके रिश्ते में झगड़ों की एक बड़ी वजह आर्थिक अस्थिरता भी थी. दोनों ने मुंबई में अपनी नौकरी छोड़ दी थी और दिल्ली आने से पहले हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड घूमने चले गए थे. फिर दिल्ली आकर 9,000 रुपये पर किराए पर घर लिया था.

सबूत जुटाना बना चैलेंज

रिपोर्ट के अनुसार, आफ़ताब ने पुलिस को बताया है कि श्रद्धा उससे मुंबई से अपना सामान लाने के लिए कहती थी और वो आर्थिक तंगी की वजह से मना कर देता था. ये भी बताया कि उनका ब्रेक-अप पहले ही हो चुका था और वो बस आर्थिक तंगी की वजह से ही साथ रह रहे थे. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया,

“वो (आफ़ताब) तो कह रहा है कि दोनों कुछ समय पहले ही अलग हो गए थे, लेकिन श्रद्धा की नौकरी लगने तक दोनों ने एक ही फ़्लैट में रहने का तय किया था. हालांकि, हम उसकी बात का पूरी तरह से भरोसा नहीं कर सकते हैं, क्योंकि हो सकता है वो हमें हमें गुमराह कर रहा हो. हमने अदालत से उसपर नार्को-टेस्ट कराने की अनुमति मांगी है.”

इधर, इस मामले में सबूत जुटाना भी दिल्ली पुलिस के लिए एक चैलेंज बन गया है. अभी तक न तो आफताब द्वारा इस्तेमाल किया गया हथियार बरामद किया गया है और न ही श्रद्धा का फोन.

Ad