बीजेपी ने अल्पसंख्यक समुदाय को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए ब्लॉक से राष्ट्रीय स्तर तक अपनाया यह नुस्खा

खबर शेयर करें -
बीजेपी को याद आए अल्पसंख्यक संस्थापक

भारतीय जनता पार्टी ने अल्पसंख्यक समुदाय को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए एक नया नुस्खा अपना लिया है। पार्टी ने अपने उन कार्यकर्ताओं के लिए बड़े पैमाने पर प्रशिक्षण कार्यक्रम का आग़ाज़ किया है, जो अल्पसंख्यक समुदाय के हैं।

भाजपा के अल्पसंख्यक मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष हाजी जमाल सिद्दीकी ने बताया कि स्थापना के बाद से ही मुस्लिमों द्वारा पार्टी को दिए गए योगदान के बारे में बताने के अलावा कार्यकर्ताओं को पार्टी के साथ अपने जुड़ाव को लेकर डिफेंड करने के लिए प्रशिक्षित होना आवश्यक है।

कार्यकर्ताओं को अल्पसंख्यकों के कल्याण के लिए पिछले छह वर्षों में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा की गई पहल को समझाने के लिए भी प्रशिक्षित किया जाएगा।

ब्लॉक से लेकर राष्ट्रीय स्तर तक पदाधिकारी होंगे प्रशिक्षित

सिद्दीकी के मुताबिक, ब्लॉक से लेकर राष्ट्रीय स्तर तक पार्टी के अल्पसंख्यक मोर्चा के पदाधिकारी प्रशिक्षित होंगे।

उन्होंने कहा, “पहले चरण में, राष्ट्रीय पदाधिकारी और राज्य इकाई के पदाधिकारियों को प्रशिक्षित किया जाएगा। बाद में, जिला और ब्लॉक स्तर पर पदाधिकारियों को प्रशिक्षित किया जाएगा।”

सिद्दीकी ने कहा कि वर्तमान पीढ़ी के कई कार्यकर्ता सिकंदर बख्त, आरिफ बेग और अन्य लोगों द्वारा पार्टी के लिए किए गए योगदान के बारे में नहीं जानते हैं।

बख्त साहब थे पार्टी के संस्थापक महासचिव

उन्होंने कहा, “ये वरिष्ठ नेता भाजपा के संस्थापकों में से एक थे और बख्त साहब पार्टी के संस्थापक महासचिव थे। बेग साहब भी मुस्लिम समुदाय से पार्टी के प्रमुख चेहरों में से एक थे।”

सिद्दीकी ने कहा कि भाजपा और मुसलमानों के बीच संबंधों के बारे में बहुत सारी गलत धारणाएं बनाई गई हैं, जिन्हें दूर किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा, “मुसलमान भाजपा के प्रमुख अंग हैं और अल्पसंख्यक समुदाय के नेताओं ने पार्टी के विकास और विस्तार में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।”

भाजपा नेता ने कहा कि कार्यकर्ताओं को मोदी सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के बारे में समझाया जाएगा ताकि वे समुदाय में उनके बारे में बात कर सकें।

मुस्लिमों की प्रगति के लिए लागू की कल्याणकारी योजनाएं

सिद्दीकी ने कहा, “मुस्लिमों की प्रगति के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं लागू की गई हैं। लेकिन जागरूकता की कमी के कारण लोगों या हमारे कई कार्यकर्ताओं को उनके बारे में जानकारी नहीं है। प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान उन्हें इन योजनाओं के बारे में समझाया जाएगा।”

उन्होंने आगे कहा कि मोदी सरकार विभिन्न समुदायों के बीच मतभेदों को समाप्त करने के लिए काम कर रही है। उन्होंने कहा, विकास की राजनीति शुरू हो गई है और इससे मुसलमानों को सबसे ज्यादा फायदा होगा।

सिद्दीकी ने यह भी बताया कि अल्पसंख्यक मोर्चा ने अल्पसंख्यक समुदायों के सदस्यों की सही संख्या का पता लगाने के लिए डेटा जुटाना शुरू कर दिया है।