बड़ी खबर- पुलिस ने एसडीएम के खिलाफ किया धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज

चार अन्य लोग भी नामजद


देहरादून: ग्रामीण की संपत्ति हड़पने के मामले में पुलिस ने उत्तर प्रदेश के औरेया के एसडीएम समेत पांच के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया है।
प्राप्त समाचार के अनुसार उत्‍तर प्रदेश के औरेया में तैनात उपजिलाधिकारी राशिद अली देहरादून में तहसीलदार रहते हुए ग्रामीण की संपत्ति हड़पने का प्रयास किया था । पीड़ित व्यक्ति सर्कुलर रोड निवासी शरत सिंधवानी द्वारा कई सालों से शासन प्रशासन के सामने कार्यवाही की मांग की जा रही थी। मामले में पुलिस ने देहरादून के डालनवाला पुलिस को तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की गई थी। जिस पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच की। ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू की है। पीड़ित द्वारा पुलिस को दी गई तहरीर के अनुसार अलग राज्य बनने की बाद उसके पूर्वजों ने देहरादून में एक मकान खरीद कर मालिक से सेल डीड रजिस्ट्री करवाई थी। प्रारंभ से ही उसके पूर्वज मकान का हाउस टैक्स भुगतान कर रहे हैं। लेकिन जब वहां अपनी भूमि को राजस्व रिकॉर्ड में दर्ज कराने गए तो तत्कालीन तहसीलदार राशिद अली व वर्तमान में औरैया के एसडीएम औरेया ने फर्जी दस्तावेजों के आधार पर उनकी संपत्ति को जरीना बेगम नाम की महिला के नाम पर दर्ज कर दिया। पीड़ित व्यक्ति ने राजस्व विभाग के साथ ही पुलिस प्रशासन के अधिकारियों से भी शिकायत की। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं होने पर उन्होंने पुलिस महानिदेशक समेत अन्य अधिकारियों से न्याय की गुहार लगाई। जिसके बाद पुलिस ने औरैया एसडीएम राशिद अली के अलावा जरीना बेगम, सुधीर अत्री, गौरव कुमार, उदय नारायण तिवारी के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया है।

Ad