मां ने 3 साल की मासूम को अस्पताल के छत से फेंका, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान

खबर शेयर करें -

गुजरात से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। मां को भगवान का रूप कहा जाता है। लेकिन कभी-कभी वही मां हैवान का रूप धारण कर लेती है। ऐसी ही एक घटना गुजरात से सामने आई है, जहां मां ने अहमदाबाद में एक अस्पताल की तीसरी मंजिल से अपनी तीन माह की बच्ची को नीचे फेंक दिया। इस मामले में पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर लिया। महिला की उम्र 23 साल बताई जा रही है।

“बच्ची को तकलीफ में नहीं देख सकती थी”

पुलिस अधिकारी ने सोमवार को घटना की जानकारी देते हुए बताया कि असारवा इलाके में स्थित एक सिविल अस्पताल में रविवार को यह घटना घटित हुई जिसमें बच्ची की मौत हो गई। पुलिस ने मामले में पूछताछ की तो आणंद जिले के पेटलाड तालुका निवासी आरोपी फरजानाबानू मलिक ने कहा कि उसकी बच्ची अमरीनबानू जन्म के समय से ही बीमार थी। महिला अपनी बच्ची को इतनी अधिक तकलीफ में नहीं देख सकती थी। इसलिए उन्होंने यह कदम उठाया। पुलिस उपायुक्त पी.पी. पीरोजिया ने कहा कि महिला ने शुरुआत में बच्ची के अस्पताल से लापता होने की बात कही थी। लेकिन जब पुलिस इस मामले में छानबीन के लिए अस्पताल में लगे सीसीटीवी देखें, तो मामले का खुलासा हुआ।

पुलिस ने बताया कि सिविल अस्पताल के सीसीटीवी फुटेज को चेक किया गया तो महिला के झूठ का पर्दाफाश हुआ। बता दें कि बच्ची पिछले दो हफ्तों से अस्पताल में भर्ती थी। वहीं पुलिस ने बताया कि सीसीटीवी में देखा गया कि महिला अपनी बेटी को गोद में लिए गैलरी की ओर जा रही है और इसके बाद वह खाली हाथ लौटीं। जिसके बाद पुलिस ने बच्ची को ढ़ूंढ़ा तो एक अस्पताल कर्मी को बच्ची का शव नीचे पड़ा मिला। इस मामले में पुलिस ने बच्ची की मां को गिरफ्तार कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी।