विवाहिता को पत्नी बनाकर बच्चे के साथ घर पहुंचा पुत्र, पिता ने कुल्हाड़ी से की हत्या

खबर शेयर करें -

सेदम: साल के पहले दिन ही एक पिता के हाथ अपने बेटे के खून से रंग गए। घर में हुए विवाद के दौरान आरोपी पिता ने टांगी से वार कर बेटे की हत्या कर दी। पूरी घटना के पीछे मुख्य वजह प्रेम प्रसंग को माना गया है। मृतक एक शादी शुदा महिला और बच्चे के साथ घर पहुंचा था और उसे अपनी पत्नी बनाकर घर पर रखना चाह रहा था और परिजन उसकी इस बात पर राजी नहीं थे। ऐसे में दोनों के बीच विवाद हुआ और मारपीट के दौरान पिता ने बेटे पर टांगी से वार कर दिया जिससे उसकी मौत हो गई। इस घटना की सूचना एक बाद आज मौके पर पहुंची पुलिस द्वारा अपराध दर्ज करने के साथ ही आरोपी पिता को गिरफ्तार करने के साथ ही हत्या में प्रयुक्त टांगी जब्त कर लिया है।

बताया जा रहा है कि बतौली थाना अंतर्गत ग्राम सुवारपारा के खैरवारपारा निवासी 22 वर्षीय शिव कुमार पैकरा आ. रामजीत पैकरा रविवार को नए वर्ष का जश्न मनाने के लिए निकला था। दिनभर दोस्तों के साथ घूमने के बाद वह देर शाम 7.30 बजे बाइक से घर पहुंचा। युवक जब घर पहुंचा तो उसके साथ एक महिला थी और उस महिला के पास भी एक छोटा बच्चा था। जब परिजन ने महिला व बच्चे के बारे में पूछताछ की तो उसने परिजन को बताया कि उक्त महिला उसकी प्रेमिका है और वह महिला व बच्चे को अपने साथ घर में पत्नी के रूप में रखना चाहता है। एक शादी शुदा महिला से शादी को लेकर परिजन ने इनकार करते हुए महिला को घर से भगाने की बात कही तो मृतक व पिता के बीच विवाद शुरू हो गया। मृतक की मां वैजन्ती के अनुसार विवाद बढ़ने पर शिव कुमार पैंकरा ने नाराज होकर अपनी मां को ही मारने के लिए दौड़ पड़ा जिसपर महिला वहां से भाग निकली वहीं उसने अपने पिता पर भी लकड़ी के टुकड़े से वार कर दिया। विवाद के बाद मारपीट की स्थिति निर्मित होने के बाद आक्रोशित पिता रामजीत पैकरा ने भी मौके पर मौजूद टांगी से शिव कुमार पर वार कर दिया। टांगी के वार से शिव कुमार की मौत हो गई। घटना के बाद आरोपी टांगी को लेकर फरार हो गया। आज सुबह इस घटना की जानकारी मिलने के बाद क्षेत्र में हड़कंप मच गया। घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस द्वारा मर्ग कायम कर शव को पीएम के लिए भेजा गया। इसके साथ ही एसपी श्रीमती भावना गुप्ता, एएसपी विवेक शुक्ला के निर्देश पर सीएसपी अखिलेश कौशिक के नेतृत्व में घटना की जांच शुरू की गई।

गुमराह करते रहा पिता, फिर कबूला जुर्म

घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस द्वारा जब मृतक के पिता को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो वह पुलिस को गुमराह करते रहा। आरोपी रामजीत ने बेटे की टांगी के बेंत से पिटाई की बात कबूल की लेकिन वह हत्या की बात को नकार रहा था। इस दौरान फोरेंसिक टीम द्वारा मामले की जांच के बाद धारदार हथियार से हत्या की पुष्टि किए जाने पर जब पुलिस ने आरोपी से कड़ाई से पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। आरोपी ने घटना के बाद हत्या में प्रयुक्त टांगी को घर से दूर लेजाकर छिपा दिया था। ऐसे में पुलिस टांगी को जब्त करने के साथ ही धारा 302 के तहत आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। इस कार्रवाई में थाना प्रभारी प्रमोद पांडेय, एएसआई शिवमन कौशिक, प्रधान आरक्षक फलेंद्र सिंह, शिवशंकर, देवेंद्र सिंह, आरक्षक राजेश खलखो, पंकज लकड़ा, अशोक भगत, विजय सोनवानी, बिजेंद्र सिंह, अनिल पैकरा, महेंद्र नाग आदि सक्रिय रहे।

घटना के बाद महिला हुई फरार

इस पूरे विवाद की मुख्य वजह शादी सुदा महिला बताई जा रही है। उक्त महिला से युवक का प्रेम प्रसंग था और वह उसे पत्नी बनाकर रखना चाहता था। बताया जा रहा है कि घटना के दौरान विवाद व मारपीट देखकर महिला बच्चे के साथ भाग गई। परिजन के अनुसार उक्त महिला अपने पति को छोड़कर वर्ष भर से मायके में ही रह रही थी। पुलिस द्वारा फिलहाल महिला के संबंध में जानकारी एकत्रित की जा रही है लेकिन अब तक कोई खास जानकारी बतौली पुलिस को नहीं मिल पाई है।

चल रही है जांच

बतौली क्षेत्र में युवक का घर के आंगन में शव होने की जानकारी मिली थी। घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस द्वारा शव को पीएम के लिए भेजने के साथ ही घटना की जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने मामले में आरोपी पिता को गिरफ्तार किया है। प्राथमिक रूप से पारिवारिक विवाद के कारण हत्या होने की जानकारी सामने आई है।