व्यवसाय के प्रतिद्वंदिता में हुआ रिश्तो का खून ममेरे भाई की हत्या


गरुड़: क्षेत्र में व्यावसायिक प्रतिद्वंदिता में रिश्तो का खून हो गया। कारोबार में बढ़ता देख युवक ने अपने ममेरे भाई को ही मौत के घाट उतार दिया। मृतक के पिता की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि आरोपी की निशानदेही पर मृतक का शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
बता दे कि गत 26 फरवरी को मकानों में टाइल्स लगाने का काम करने वाले राशिद के पिता मो0 नवी ने बैजनाथ थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी। जिसमे उन्होंने दानिश पुत्र मेहंदी हसन निवासी बहेड़ी पर राशिद की हत्या का शक जताया था। जिसके बाद पुलिस ने दानिश को हिरासत में लेकर कड़ी पूछताछ की। जिसके बाद दानिश ने राशिद की हत्या करने की बात कबूल कर ली। रविवार को साेमवार को बैजनाथ थाने में पुलिस अधीक्षक अमित श्रीवास्तव ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि आरोपी दानिश पिछले कई वर्षों से गरुड़ व आसपास के क्षेत्रों में टाइल्स लगाने का कार्य करता है जब उसका कार्य काफी बढ़ गया तो उसने डेढ़ वर्ष पूर्व अपने ममेरे भाई राशिद को अपने पास बुला लिया। इधर राशिद का काम बढ़ने लगा और उसकी क्षेत्र में अच्छी पहचान हो गई। दानिश अपने काम में बिछड़ने लगा तो वह राशिद से रंजिश रखने लगा। जिसके बाद गत 18 फरवरी को आरोपी दानिश अपने ममेरे भाई राशिद पुत्र मुहम्मद नवी निवासी बहेड़ी को बाइक में बैठा कर जंगल में ले गया और डंडे से सर पर हमला कर उसकी हत्या कर दी जिसके बाद पहचान छुपाने के लिए उसने मृतक के चेहरे को जला दिया। और शव को पत्थरों से एक खाई में दबा दिया। पुलिस ने आरोपी दानिश की निशानदेही पर जंगल में राशिद का क्षत विक्षत शव बरामद कर लिया। जबकि हत्याकांड में इस्तेमाल किए डंडा भी बरामद कर लिया गया है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 302,201 के तहत मुकदमा दर्ज कर दिया है।

Ad