11 किलो वजन और डेढ़ करोड़ रुपये कीमत का हाथी दांत बरामद

रुद्रपुर: वन विभाग तराई केंद्रीय रुद्रपुर एवं एसटीएफ रुद्रपुर की संयुक्त टीम द्वारा 11 किलो के हाथी दांत के साथ चार तस्करों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए तस्करों को जेल भेज दिया है। बताया जा रहा की पिछले छह वर्ष के भीतर यह सबसे बड़ा हाथी दांत है। छह वर्ष पूर्व कॉर्बेट रामनगर में सत्र 17 किलो के हाथी दांत बरामद किए गए थे।
बता दे कि एक हफ्ता पूर्व पीपल पड़ाव रेंज में नाले के किनारे एक हाथी मृत मिला था। जिसका एक दांत गायब हो गया था। जिसके बाद तराई पूर्वी वन प्रभाग व एसटीएफ रुदपुर की संयुक्त टीम ने दांत की खोजबीन शुरू कर दिया। मंगलवार को एक गोपनीय सूचना के आधार पर एसटीएफ एवं वन विभाग ने चार अपराधियों को पकड़ने में सफलता प्राप्त की। वन विभाग ने हाथी दांत वाहन सहित चारों अपराधियों को अपने अभिरक्षा में लेकर जांच प्रारंभ कर दी है बरामद हुए हाथी के दांत का वजन करीब 11 किलो बताया जा रहा है। पूछताछ में तस्करों ने अपना नाम करनैल सिंह निवासी जगतपुरी, रविंद्र सिंह पुत्र विरसा सिंह निवासी स्वार रामपुर, किशन सिंह पुत्र राम सिंह निवासी राजीव नगर बिंदुखत्ता, राजू कुमार पुत्र रामपाल सिंह निवासी स्वार रामपुर बताया। बरामद हाथी दांत की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में डेढ़ करोड़ रुपए बताई जा रही है।

टीम में शामिल अधिकारी
रुदपुर: टीम में उप प्रभागीय वन अधिकारी ध्रुव सिंह मार्तोलिया, पुलिस एसटीएफ रुद्रपुर प्रभारी एसपी सिंह के अलावा उनकी टीम में पंकज कुमार शर्मा वन क्षेत्राधिकारी पीपल पड़ाव अजय लिंगवाल, रूपनारायण गौतम ,कैलाश तिवारी, वन दरोगा मनोज कुमार मलकानी, सुरेंद्र सिंह, मोहम्मद ताहिर तथा वन सुरक्षा दल के सुरक्षा कर्मचारी उपस्थित थे ।

Ad