3 महीने पहले लव मैरिज-एक माह बाद प्रेग्नेंट, तीसरे महीने पति ने सीने पर गोली मार की हत्या, शॉकिंग है कहानी

झारखंड में एक प्रेगनेंट पत्नी की पति द्वारा गोली मार हत्या कर दी गई। हत्या के बाद जमकर बवाल हुआ। मायके वालों ने मृतका के शव को उसके ससुराल में ही दफना दिया। और जमकर बवाल काटा। घर में आग लगा दी और जमकर तोड़ फोड़ की। मामला हजारीबाग जिले के बड़कागांव थाना क्षेत्र के नापोखुर्द गांव का है। पुलिस ने मृतका के पति शशि कुमार को गिरफ्तार कर लिया है जबकि ससुराल के अन्य लोग फरार है। पूजा कुमारी के शव को मायके वालों ने उसी के ससुराल में दफना दिया और ऊपर से प्लास्टर कर दिया। मायके वालों ने गोली मार पूजा की हत्या करने का आरोप लगाया है।

पति ने कहा गलती से चली गोली
गिरफ्तार किए गए पूजा के पति शशि कुमार ने पुलिस के समक्ष कहा है कि गांव का बरबनिया निवासी बिल्ली कुमार ने एक रिवाल्वर रखने के लिए दिया थाष।  जिसे रात को अपने घर में चेक करने के दौरान गोली चल गई। गोली मेरी पत्नी को लग गई। फिर पत्नी को  बड़कागांव सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया जहां से हजारीबाग रेफर कर दिया गया। जहां हजारीबाग ले जाते हुए रास्ते में उसकी मृत्यु हो गई। जिसके बाद शव को अपने घर ले आया। इधर, पुलिस ने घटना स्थल से एक खोका बरामद किया है। इसके साथ ही घटना में प्रयुक्त पिस्तौल भी बरामद कर लिया गया है। पूजा और शशि कुमार ने लव मैरिज किया था। पूजा दो माह की गर्भवती भी थी।

मृतका के परिवार वालों ने किया हंगामा
घटना की सूचना पाकर पूजा कुमारी के मायके वाले पूजा के ससुराल पहुंचे।  हंगामा करते हुए घरेलू सामान को तोड़फोड़ की। वहीं घर का सामान निकाल कर दरवाजे पर आग के हवाले कर दिया। वहीं शशि कुमार के साथ मारपीट कर रहे थे तभी पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर शशि कुमार को गिरफ्तार कर लिया। पूजा के पिता ने बताया कि बेटी की शादी 15 जून 22 को हुई थी। शादी के 1 माह बाद मेरी पुत्री एवं हमसे ससुराल वाले द्वारा 6 लाख दहेज तिलक मांगा जाने लगा। नहीं देने पर पुत्री के साथ मारपीट की जाने लगी। 27 सितंबर षड्यंत्र रच कर शशि कुमार, शशि के पिता बिंदेश साव, मां हीरा देवी, भाई विक्रम कुमार एवं प्रवीण महतो पिता देवकी महतो ने उनकी बेटी के साथ मारपीट की फिर गोली मारकर हत्या कर दी।

Ad