आठ राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में कोरोना पॉजिटिव रेट काफी चिंताजनक, केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव का आया चोंका देने वाला बयान

Image result for केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण  ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि भारत में कोरोना वायरस   से संक्रमितों और कोरोना से होने वाली मौत की संख्या अमेरिका, ब्रिटेन, ब्राजील के मुकाबले कम है। लेकिन, आठ राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में कोरोना पॉजिटिव रेट काफी चिंताजनक हैं। उनका कहना है कि इन आठ राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में साप्ताहिक कोरोना पॉजिटिव रेट राष्ट्रीय कोरोना पॉजिटिव रेट के मुकाबले ज्यादा है।

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव का कहना है कि वह प्रशासन के संपर्क में हैं और इन राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में अपनी टीम भेज रहे हैं। इसके साथ ही भारत को कोवाक्स के माध्यम से 97.1 मिलियन कोरोना की खुराक मिलने की संभावना है। भारत में साप्ताहिक कोरोना पॉजिटिव रेट 1.82 प्रतिशत है।

हाई पॉजिटिविटी रेट वाले राज्यों की सूची

केरल- 11.20 प्रतिशत
छत्तीसगढ़- 6.20 प्रतिशत
महाराष्ट्र- 4.70 प्रतिशत
गोवा- 4.80 प्रतिशत
नागालैंड- 3.60 प्रतिशत
लद्दाख- 2.90 प्रतिशत
पुदुचेरी -2.60 प्रतिशत
चंडीगढ़- 2.10 प्रतिशत

 

उन्होंने बताया कि केरल और महाराष्ट्र के अलावा, इनमें से कोई भी राज्य कभी भी संक्रमण का केंद्र नहीं बन पाया लेकिन, वर्तमान में भारत में केवल 1.55 लाख कोरोना के एक्टिव मामले हैं। केरल और महाराष्ट्र 35 हजार से अधिक सक्रिय मामलों वाले एकमात्र दो राज्य हैं – केरल (69.365), महाराष्ट्र (38,762)।

वहीं, वैश्विक कोरोना महामारी की स्थिति को लेकर सचिव ने कहा, देशों ने इससे पहले भी कई चुनौतियों का सामना किया है और अगर मौत के आंकड़ों की तुलना की जाए तो अन्य देशों में भारत के मुकाबले ज्यादा लोगों की मौत हो रही है।

Ad