दो बच्चों का पिता निकला किशोर संप्रेक्षण गृह से फरार बाल अपराधी

खबर शेयर करें -


हल्द्वानी: हल्द्वानी के किशोर संप्रेक्षण गृह से फरार हुए नाबालिग अपराधियों में से एक आरोपी दो बच्चों का पिता निकला। पुलिस आरोपी नाबालिग आरोपी के बच्चों व पत्नी को देखकर दंग रह गई।
बतादें की राजकीय महिला कल्याण एवं पुनर्वास कार्यालय परिसर हल्द्वानी में किशोर संप्रेषण ग्रह बनाया गया है। जहां पर अपराध करने वाले किशोरों को रखा जाता है। वर्तमान समय में किशोर संप्रेषण ग्रह में 13 बच्चे रखे गए थे। जिसमें संगीन अपराध करने वाले बच्चों को प्रथम तल में रखा गया है जबकि चोरी के मामलों के आरोपी किशोरों को द्वितीय तल में रखा गया था। गत बुधवार की रात को द्वितीय तल में रखे बाल अपराधियों ने खिड़की की ग्रिल को टेढ़ी कर दिया। उसके बाद खिड़की में लगी जाली को भी फाड़ दिया। और चादरों को एक दूसरे में जोड़कर रस्सी बनाई और उसके सहारे एक-एक कर नीचे उतर गए। जिसके बाद सीढ़ी लगाकर चारदीवारी को पार कर फरार हो गए। जिसके बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया।
इधर पुलिस किशोर संप्रेषण ग्रह से लापता बाल अपराधियों की तलाश में उनके घरों में जा रही है। इसी क्रम में शुक्रवार को पुलिस लालकुआं के सुभाष नगर निवासी कथित बाल अपराधी को तलाश करते हुए उसके घर पहुंची तो बाल अपराधियों उसके दो बच्चों व पत्नी को देखकर हैरान हो गए। पता चला है कि शैक्षिक अभिलेखों में वह नाबालिक है। इसीलिए उसे किशोर संप्रेषण गृह में रखा गया था। आरोपी किशोर आठ मार्च को नशीले पदार्थों की तस्करी के आरोप में पकड़ा गया था। पुलिस के अनुसार आरोपी किशोर का 4 साल पूर्व विवाह हो चुका है। उसकी ढाई साल की बेटी वह 9 महीने का बेटा भी है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि किशोर की मेडिकल जांच कराने के साथ ही उसके शैक्षिक अभिलेखों की जांच कराई जाएगी। वास्तविक उम्र का पता लगने के बाद अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।