नया साल लेकर आया कड़ाके की ठंड, जानें उत्तराखंड, दिल्ली और यूपी समेत कई राज्यों के मौसम का हाल

खबर शेयर करें -

उत्तर भारत के ज्यादातर हिस्से इस समय ठंड की चपेट में हैं। ठंड इतनी बढ़ गई है कि लोगों को अलाव का सहारा लेना पड़ रहा है। बता दें कि किसी इलाके में शीतलहर की मार है तो कई हिस्से घने कोहरे की चपेट में हैं।

सर्दी का सितम आने वाले दिनों में कम होगा या बढ़ेगा इसको लेकर इंडियन मेट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट (IMD) ने ताजा अपडेट जारी किया है। मौसम विभाग के एक्सपर्ट ने नए साल के पहले हफ्ते में ठंड का असर और ज्यादा बढ़ने की संभावना जताई है। खासतौर पर उत्तर और पूर्वी भारत के कई राज्यों में ठंड का असर बढ़ने के आसार जताए गए हैं। मौसम विभाग ने इसको लेकर अलर्ट भी जारी किया है।

दिल्ली और यूपी समेत इन राज्यों में घना कोहरा

इंडियन मेट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट की ओर से जारी अलर्ट के मुताबिक, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कई जिलों में सुबह व रात में घना से काफी घना कोहरा पड़ सकता है। इसके अलावा बिहार के कुछ जिलों में भी लोगों को घने कोहरे का सामना करना पड़ सकता है। इन प्रदेशों में अगले 5 दिनों तक ऐसी ही स्थिति रहने का अनुमान है। पहाड़ी राज्य हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में भी अगले 3- 4 दिनों तक घना कोहरा पड़ने की संभावना जताई गई है। पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में आने वाले 2 दिनों तक घना कोहरे छाया रह सकता है। अरुणाचल प्रदेश के लोगों को अगले 24 घंटों तक कोहरे का सामना करना पड़ सकता है। पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता के चलते मैदान से लेकर पहाड़ तक मौसम का मिजाज अगले एक दो दिन में फिर बदलने वाला है। उत्तराखंड के उत्तरकाशी, चमोली, पिथौरागढ़, रुद्रप्रयाग, बागेश्वर में बारिश के साथ ही बर्फबारी की संभावना है।

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद के कुछ हिस्सों में घना कोहरा छाया हुआ है, कई इलाकों में दृश्यता कम हो गई है। आईएमडी के अनुसार, मुरादाबाद में न्यूनतम तापमान 6 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 16 डिग्री सेल्सियस रहेगा, जबकि बहुत घना कोहरा आज भी बना रहेगा।

तापमान गिरने की संभावना

कोहरे और शीतलहर के भारी प्रकोप के साथ ही देश के कई राज्यों के तापमान में गिरावट आने की उम्मीद भी जताई गई है। मौसम एक्सपर्ट की मानें तो हिमालय क्षेत्र से आने वाली उत्तर-पश्चिमी हवाओं का मैदानी भाग में काफी असर पड़ सकता है। उत्तर-पश्चिम भारत में इसके चलते न्यूनतम तापमान में 2 से 4 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट दर्ज करने के आसार हैं। अगले 2 दिनों तक मध्य भारत में भी इसका असर देखा जा सकता है। ठंडी हवाओं के चलते हिमाचल प्रदेश में 1 जनवरी 2023, पंजाब और पश्चिमी राजस्थान में 4 जनवरी 2023, हरियाणा के साथ ही चंडीगढ़ और पूर्वी राजस्थान के कुछ हिस्सों में भी 4 जनवरी तक शीतलहर बढ़ने की उम्मीद जताई गई है।

दिल्ली-यूपी में शीतलहर

दिल्ली-एनसीआर और यूपी के कई जिलों में भी ठंडी हवाओं का कहर देखने को मिल सकता है। IMD के ताजा पूर्वानुमान के मुताबिक, दिल्ली-एनसीआर में 3 से 4 जनवरी तक शीतलहर होने की संभावना है। वहीं, पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अधिकांश भागों में भी 1 से 2 जनवरी 2023 तक शीतलहर का प्रकोप रहने का अनुमान है। अगले 3 दिनों तक मध्य भारत के साथ ही देश के अन्य राज्यों के तापमान में कुछ खास तब्दीली होने के आसार नहीं है।