बड़ी खबर- मवेशी से टकराने के बाद 20 किलोमीटर पीछे को दौड़ी रेलगाड़ी, बड़ा हादसा होते-होते टला

टनकपुर: रेलगाड़ी के उल्टी दिशा में दौड़ने की खबर से ही रूह कांप उठती है। यह दृश्य बनबसा टनकपुर के बीच में रहने वाले लोगों के साथ ही पूर्णागिरी जन शताब्दी में बैठे यात्रियों ने देखा। जब टनकपुर से रेलगाड़ी मवेशी से टकराने के बाद तेजी से करीब 20 किलोमीटर पीछे की और दौड़ने लगी तो यात्रियों की सांसें थम गई।
बुधवार की साम दिल्ली से टनकपुर पहुंच रही पूर्णागिरि जनशताब्दी एक्सप्रेस रेलगाड़ी करीब सांय पौने पांच बजे मनिहारगोठ के पास मवेशी से टकरा गई। जिसके बाद इंजन का प्रेशर डाउन हो गया। और रेलगाड़ी पीछे को तोड़ने लगी। करीब 60 यात्रियों को लेकर रेलगाड़ी खटीमा के पास जाकर रुकी। बताया जा रहा है कि दिल्ली से टनकपुर आ रही पूर्णागिरि जन शताब्दी एक्सप्रेस (5326) की चपेट में आने से मवेशी कट गया।।जिससे रेलगाड़ी का प्रेशर पाइप फट गया। जिसके बाद ट्रेन आगे बढऩे के बजाय पीछे की ओर जाने लगी। रेलगाड़ी के चालक द्वारा ब्रेक लगाने के काफी प्रयास किए गए लेकिन रेल गाड़ी रुकी नहीं। रेलगाड़ी में दो एसी व आठ सामान्य बोगियों में करीब 60 यात्री सवार थे। रेलगाड़ी को पीछे जाते देख यात्रियों की रूह कांप गई।
इस दौरान रेलगाड़ी बनबसा व चकरपुर होते हुए खटीमा से करीब पांच किमी पहले नदन्ना नदी के पास जाकर रुक गई। जिसके बाद यात्रियों ने राहत की सांस ली। रेलवे विभाग द्वारा ट्रेन के पीछे जाने पर सभी को अलर्ट कर दिया था। लेकिन कई रेलवे फाटक खुले थे। सौभाग्य से उस समय कोई भी वाहन व राहगीर रेलवे लाइन क्रॉस नहीं कर रहा था। जिससे बड़ा हादसा होते-होते टल गया। इधर सूचना पर रेलवे के कई बड़े अधिकारी मौके पर पहुंच गए। जिन्होंने मामले की जांच शुरू कर दी है। रेल गाड़ी के पीछे की तरफ जाने की घटना लोगों के लिए कौतूहल का विषय बनी रही। इस दौरान कई लोगों ने रेलगाड़ी की वीडियो भी बनाई।

Ad