लालकुआं में भी बड़ी कोरोना की रफ्तार, इस क्षेत्र को बनाया माइक्रो कंटेनमेंट जोन


लालकुआं। देशभर में तेजी से बढ़ रहे कोविड-19 के मामलों को देखते हुए जिला प्रशासन ने नैनीताल- उधम सिंह नगर बॉर्डर पर 50 लोगों के आरटीपीसीआर टेस्ट कराये। इस दौरान एक दर्जन लोगों का बिना मास्क में होने के चलते चालान करते हुए चौबीस सौ रुपए वसूले। इसके अलावा प्रशासन द्वारा गोरापड़ाव के हाथीखाल क्षेत्र को माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित किया है।

यह भी पढ़े- कोरोना वैक्सीन लगाने के बाद बरते ये सावधानी

👉कुंभ और पूर्णागिरि मेले में महिलाओं के लिए उत्तराखंड परिवहन निगम की बसों में निशुल्क यात्रा की सौगात

उप जिलाधिकारी ऋचा सिंह के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग और नगर पंचायत की टीम ने नैनीताल- उधम सिंह नगर के सुभाष नगर चेकपोस्ट स्थित बॉर्डर पर चेकिंग अभियान चलाया। जिसमें उत्तर प्रदेश समेत विभिन्न प्रदेशों से आ रहे वाहनों को रुकवा कर बिना मास्क पहने बैठे लोगों का चालान करते हुए संदिग्ध लग रहे यात्रियों का कोविड-19 टेस्ट कराया गया। लगभग 4 घंटा चले अभियान के दौरान 50 लोगों का आरटीपीसीआर टेस्ट कराया गया। जबकि 5 दर्जन से अधिक लोगों को मास्क वितरित किए गये। और एक दर्जन लोगों का चालान किया गया। इसके अलावा 9 लोगों के कोरोना पॉजिटिव आने के कारण गोरापड़ाव के हाथीखाल क्षेत्र को माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। अभियान में उप जिलाधिकारी ऋचा सिंह, नगर पंचायत की अधिशासी अधिकारी राजू नबियाल, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लालकुआं के डॉ लव पांडे, लैब टेक्नीशियन बसंत बल्लभ लोहनी, नगर पंचायत के लिपिक मनोज बरगली सहित भारी संख्या में स्वास्थ्य विभाग, राजस्व विभाग और नगर पंचायत के कर्मचारी शामिल थे।

Ad