वेलेंटाइन डे तक अपना एक बॉयफ्रेंड बना लें, वरना कॉलेज में प्रवेश नहीं : चर्चित कॉलेज द्वारा लड़कियों के लिए सर्कुलर

Fake viral letter for Agra College Girls for Boyfriend selection  - Sakshi Samacharकॉन्सेप्ट फोटो

  • कॉलेज प्रशासन व पुलिस महकमे में हंगामा
  • मामले को फेक बताते हुए कार्रवाई की मांग

लखनऊ:(Uttar Pradesh) के आगरा के एक चर्चित कॉलेज के द्वारा लड़कियों के लिए खास तौर पर जब जारी किया गया एक सर्कुलर सोशल (Social media) मीडिया में वायरल (Viral) हुआ तो पूरे शहर में जोरशोर से चर्चा शुरू हो गयी कि आखिर ऐसा बेतुका आदेश क्यों जारी किया गया है। फिलहाल कॉलेज प्रशासन ने मामले के फेक बताते हुए जांच कराकर कार्रवाई करने की बात कह रहा है।

आगरा में ख्याति प्राप्त सेंट जॉन्स कॉलेज (St John’s college) के लेटरहेड पर लिखा मेसेज सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद से कॉलेज प्रशासन व पुलिस महकमे में हंगामा मचा हुआ है। मेसेज में सेकंड ईयर फीमेल स्टूडेंट्स के लिए हिदायत दी गई है कि 14 फरवरी यानी वेलेंटाइन डे तक अपना एक बॉयफ्रेंड बना लें, वरना कॉलेज में प्रवेश नहीं मिलेगा। सुरक्षा कारणों के लिए यह करना अनिवार्य बताया जा रहा है।

इस मैसेज के अनुसार कॉलेज परिसर में किसी भी हालत में अकेली लड़की को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। इसके साथ साथ लड़कियों से उनके बॉयफ्रेंड के साथ फोटो भी लाने की बात कही गयी है।

हालांकि मामले के वायरल होने के बाद कॉलेज प्राचार्य ने इस पत्र का खंडन करते हुए कहा है कि ऐसा हरकत से कॉलेज की प्रतिष्ठा को धक्का लगा है। यह किसी का शरारती कृत्य है। थाने में शिकायत दर्ज कर कार्रवाई की मांग की जा रही है।

सोशल मीडिया में वायरल हो रहे लेटर में यह बात सेंट जॉन्स डिग्री कॉलेज आगरा के लेटरहेड पर छेड़छाड़ करके लिखी गयी है। सोमवार को सोशल मीडिया पर वायरल इस मैसेज में जिस कॉलेज के वरिष्ठ प्रफेसर डॉ. आशीष शर्मा का हवाला दिया गया है, वह कॉलेज में है ही नहीं।

जब कॉलेज से मामले के बारे में बात की गई तो उन्होंने बताया कि इसकी जांच की जा रही है। ये पत्र पूरी तरह फर्जी है। इस पत्र के बारे में कॉलेज के प्राचार्य डॉ. एसपी सिंह का कहना है कि कॉलेज में प्रो. आशीष शर्मा नाम का कोई भी शिक्षक नहीं है और न इस तरह की कोई फैकल्टी है।

Ad