शादीशुदा लोगों की हो गई मौज, मोदी सरकार देगी साल के 51 हजार रुपये, बस ये काम कर लें

केंद्र सरकार प्रधानमंत्री वय वंदना योजना चला रही है. इस योजना के तहत लाभार्थी को पेंशन की गारंटी दी जाती है.

इस स्‍कीम को केंद्र सरकार ने 26 मई 2020 को शुरू किया था. अगर आप भी इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो 31 मार्च 2023 तक इस योजना के लिए अप्‍लाई कर सकते हैं. पति-पत्‍नी दोनों 60 की उम्र के बाद इस योजना के तहत पेंशन ले सकते हैं. जानिए इस योजना के बारे में.

वय वंदना योजना क्‍या है

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना एक सोशल सिक्योरिटी प्‍लान है. जिसके तहत आवेदनकर्ता को सालाना, त्रैमासिक या मासिक पेंशन देने का प्रावधान है. आपको बता दें कि इस योजना को भारत सरकार लेकर आयी है और इस योजना का संचालन भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) द्वारा किया जाता है. इस योजना में वे लोग पात्र रहते हैं जिनकी उम्र 60 साल या इससे ज्‍यादा है. इस योजना के तहत वे अधिकमत 15 लाख रुपये निवेश कर सकते हैं. आपको बता दें कि पहले इस योजना में सिर्फ 7.5 रुपये ही निवेश किए जा सकते थे, लेकिन बाद में इस अमाउंट को बढ़ा कर डबल कर दिया गया. इस प्‍लान में दूसरी योजनाओं के मुकाबले, सीनियर सिटीजन को ज्यादा ब्याज मिलता है.

कैसे मिलेंगे साल के 51 हजार रुपये

अगर पति पत्‍नी दोनों इस स्‍कीम का लाभ उठाना चाहते हैं तो दोनों को प्रधानमंत्री वय वंदना योजना में लगभग 3 लाख 7 हजार 500 रुपये की रकम निवेश करनी होगी, यानी कुल 6 लाख 15 हजार रुपये. इस योजना पर 7.40 फीसदी का सालाना ब्‍याज भी दिया जाता है. इस हिसाब से निवेशक की सालाना पेंशन 51 हजार 45 रुपये को होगी. अगर इस पेंशन को आप मंथली लेना चाहते हैं तो हर महीने 4100 रुपये की राशि आपको पेंशन के रूप में मिलेगी.

10 साल बाद मिलेगा पूरा पैसा

इस स्‍कीम में आपका निवेश 10 साल के लिए होता है. 10 साल तक आपको सालाना या मासिक पेंशन दी जाएगी. अगर आप 10 साल तक इस स्‍कीम में बने रहते हैं तो 10 साल बाद आपका निवेश, आपको वापिस कर दिया जाएगा. इस योजना में आप कभी भी सरेंडर कर सकते हैं.

Ad