सरकार की बुद्धि शुद्धिकरण के लिए कांग्रेसियों द्वारा उठाया जा रहा है यह अनोखा कदम

बागेश्वर। गैरसैंण को मंडल बनाए जाने का विरोध बढ़ता जा रहा है। कल दिनांक 17 मार्च 2021 बुधवार को कवि जोशी जिला अध्यक्ष युवा कांग्रेस बागेश्वर के नेतृत्व में सभी युवा कांग्रेस एवं कांग्रेस और महिला कांग्रेस, एनएसयूआई, एवं सेवादल सहित जिले के कई कांग्रेसी सम्मानित लोग अपने-अपने घरों में एक दिया एवं मोमबत्ती जलाकर राज्य सरकार के खिलाफ उनकी बुद्धि शुद्धिकरण के लिए गैरसैण मंडल बनाने के विरोध में प्रदर्शन दर्ज करेंगे।

युवा कांग्रेस के जिलाध्यक्ष कवि जोशी के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने गैरसैंण मंडल में कुमाऊं के अभिन्न अंग अल्मोड़ा और बागेश्वर को शामिल करने पर सख्त नाराजगी जताई। जोशी ने कहा कि कुमाऊं की पहचान अल्मोड़ा से रही है। बागेश्वर पूर्व में कत्यूरी राजाओं की राजधानी रहा है। कुमाऊं के समृद्ध इतिहास में अल्मोड़ा और बागेश्वर की अहम भूमिका है। ऐसे में इन जिलों को मिलाकर अलग मंडल बनाने का कोई औचित्य नहीं है।

इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए जिला प्रवक्ता अंकुर उपाध्याय युवा कांग्रेस बागेश्वर, ने जिले के समस्त जनता को संदेश देते हुए एक कविता में कहते हुए कहा ” अपने अस्तित्व की लड़ाई में खुलकर लडूंगा, मैं कुमाऊनी था, हूं और कुमाऊनी ही रहूंगा। गैरसैण मंडल रद्द करो बीजेपी सरकार होश में आओ।

कार्यकर्ताओं ने गैरसैंण मंडल के फैसले को निरस्त न किए जाने पर आंदोलन करने की भी चेतावनी दी। इस दौरान अंकुर उपाध्याय, मनोज आर्य,  रिजवान खान, उमेश मनराल, रोहित खैर, कमल कोरंगा, पंकज पांडेय, धीरज गढ़िया, नागेंद्र मनवाल वाणी, अंकित नगरकोटी आदि थे

Ad