21 साल का उत्तराखंड देख चुका है आठ मुख्यमंत्री


देहरादून: त्रिवेंद्र सिंह रावत ने 18 मार्च 2017 को राज्य के आठवे मुख्यमंत्री के रूप में सत्ता संभाली थी। 21 साल के उत्तराखंड में अब तक आठ मुख्यमंत्री बन चुके हैं।
मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मंगलवार को अपने चार साल के कार्यकाल से नौ दिन पहले मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। जिसके बाद त्रिवेद्र सिंह रावत उत्तराखंड के उन पूर्व मुख्यमंत्रियों की जमात में शामिल हो गए हैं जो अपना पांच साल का कार्यकाल पूर्ण नहीं कर पाए है। उत्तराखंड में केवल नारायण दत्त तिवारी ही अब तक पांच साल का कार्यकाल पूर्ण करने वाले मुख्यमंत्री रहे हैं।
बता दें कि राज्य बनने के बाद नौ नवम्बर 2000 में भाजपा के नित्यानंद स्वामी सबसे पहले मुख्यमंत्री बने। उन्होंने करीब एक वर्ष तक मुख्यमंत्री का कार्यभार संभाला। जिसके बाद 2001 में भगत सिंह कोश्यारी मुख्यमंत्री बने जिन्होंने 6 महीने के मुख्यमंत्री का कार्यकाल तय किया। वर्ष 2002 में स्वर्गीय नारायण दत्त तिवारी राज्य के मुख्यमंत्री बने जिन्होंने पूरे 5 वर्षों तक सत्ता संभाली। 2007 में भुवन चंद खंडूरी मुख्यमंत्री बने और करीब 27 महीने मुख्यमंत्री पद पर विराजमान रहे। 2009 में मुख्यमंत्री बने रमेश पोखरियाल निशंक भी करीब 27 महीने तक मुख्यमंत्री बने। जिसके बाद फिर 6 महीने के लिए फिर से भुवन चंद खंडूरी मुख्यमंत्री बने। मार्च 2012 में मुख्यमंत्री बने विजय बहुगुणा 22 महीने, हरीश रावत 25 महीने के लिए मुख्यमंत्री बने। जिसके बाद फिर से हरीश रावत एक बार एक दिन व दूसरी बार दस महीने के लिए मुख्यमंत्री बने। जिसके बाद त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राज्य की सत्ता संभाली। इसके अलावा राज्य में दो बार राष्ट्रपति शासन भी लग चुका है।

Ad