नहीं रही कलयुग की मीरा, रिंगस से दर्जनों निशान एक साथ उठाकर खाटू श्याम तक पदयात्रा करने वाली श्याम भक्तनी आरती टांक की सड़क हादसे में मौत।

Meera of Kalyug is no more, Shyam devotee Aarti Tank, who had undertaken the foot march from Ringas to Khatu Shyam, died in a road accident.

खबर शेयर करें -

राजू अनेजा ,रींगस। राजस्थान के रींगस से एक दुखद खबर सामने आ रही है।रींगस से खाटू की पदयात्रा करने वाली “कलयुग की मीरा” आरती टांक की सड़क हादसे में दर्दनाक मौत हो गयी।बताया जा रहा है कि अपने हाथ में दर्जनों निशान एक साथ उठाकर चलने वाली  श्री श्याम भक्तिनी आरती को पदयात्रा के दौरान लम्पुवा गांव के पास एक गाड़ी वाला जोरदार टक्कर मारकर फरार हो गया तत्पश्चात उनकी मौके पर ही  मौत हो गयी। इधर सूचना विभाग मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। सड़क हादसे में आरती की दुःखद मौत पर श्याम भक्तों में काफी शोक व्याप्त है ।