पिथौरागढ़ : मुरादाबाद से आए शिकारियों की गोली से ढेर हुआ नरभक्षी गुलदार

पिथौरागढ़ : विगत 10 दिनों के अंदर कनाली्छीना क्षेत्र के कापड़ी गांव से सिरौली तक दो महिलाओं को जिस गुलदार ने अपना निवाला बनाया था, उस आदमखोर गुलदार को आज मुरादाबाद से बुलाए गए शिकारियों द्वारा ढेर कर दिया गया, आदमखोर गुलदार का खात्मा होने पर क्षेत्र की जनता ने राहत की सांस ली। बता दें कि 18 फरवरी को कापड़ी गांव में गुलदार के हमले की पहली घटना हुई जिसमें गुलदार ने कलावती देवी को अपना शिकार बनाया था। जिसके बाद वन विभाग ने क्षेत्र में गुलदार को नरभक्षी घोषित कर दिया और शिकारी तैनात करने की स्वीकृति मिलते ही मुरादाबाद से पहुंचे शिकारी राजीव व उनके सहायक को क्षेत्र में तैनाती दे दी गई। शिकारी जब तक उस गुलदार का पता करते तब तक बीते रोज 28 फरवरी को गुलदार ने सिरौली की तुलसी देवी को भी अपना शिकार बना दिया, इस घटना के बाद क्षेत्र के लोग दहशत में रहने लगे पर बीती रात्रि वही नरभक्षी गुलदार दोबारा शिकार की फिराक में सिरोली गांव आया, इसी दौरान शिकारी राजीव की गुलदार पर नजर पड़ी और उसे अपनी गोली का शिकार बना दिया। इसी के साथ आतंक का पर्याय बने नरभक्षी गुलदार की कहानी का अंत हुआ। यह खबर सुनते ही क्षेत्र में खुशी की लहर दौड़ी ही थी कि मंगलवार को स्थानीय लोगों ने मादा गुलदार को शावकों के साथ देखा, जिससे फिर से क्षेत्र में दहशत फैल गई। जिसके बाद वन विभाग ने क्षेत्रवासियों को आश्वासन दिया कि जल्द ही इस मादा गुलदार को भी पकड़ लिया जाएगा।

Ad