उत्तराखंड में नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन की फैक्ट्री का भंडाफोड़

नई दिल्ली/ देहरादून। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम ने उत्तराखंड में छापेमारी कर नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन की फैक्ट्री का भंडाफोड़ करते हुए 5 लोगों को दबोचा। दिल्ली पुलिस के आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने ट्विटर पर यह जानकारी साझा करते हुए बताया कि पकड़े गए आरोपी नकली इंजेक्शन को ₹25000 में बेचते थे।


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मुखबिर की सूचना पर गुरुवार को पौड़ी जनपद के कोटद्वार में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने छापेमारी कर रेमडेसिविर इंजेक्शन की फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया, टीम ने मौके से 5 लोगों को दबोचा। क्राइम ब्रांच डीसीपी मोनिका भारद्वाज के नेतृत्व में टीम ने मौके से 196 नकली इंजेक्शन, एक मशीन समेत तमाम सामग्री जब्त की है।
पुलिस के मुताबिक आरोपी इस नकली इंजेक्शन को ₹25000 में बेचते थे। बताया कि अब तक आरोपी लगभग 96 इंजेक्शन बेच चुके हैं।
यह भी पढ़ें 👉 बिन्दुखत्ता में आकाशीय बिजली गिरने से दो दुधारू पशुओं की मौत, लाखों रुपए के विद्युत उपकरण फुके

पुलिस आरोपियों से सघन पूछताछ में जुटी हुई है तथा पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है गैंग में कितने और लोग शामिल है तथा इनके तार कहां जुड़े हुए हैं।

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के चलते जहां आम इंसान खौब के साए में जीने को मजबूर है वही मौत के सौदागर जीवन रक्षक दवाओं की कालाबाजारी कर मुनाफा कमाने की जुगत में भी जुटे हुए हैं। हालाकि उत्तराखंड पुलिस द्वारा कालाबाजारी करने वालों की सूचना तुरंत पुलिस को देने की अपील की जा रही है। पुलिस प्रशासन की सख्ती के बावजूद भी आपदा की इस घड़ी में कालाबाजारी करने वाले बाज नहीं आ रहे हैं।

Ad