लालकुआं : हिंदी पत्रकारिता दिवस पर पत्रकारों की वर्चुअल गोष्ठी, जूम एप द्वारा हुए यह लोग शामिल

लालकुआं। हिंदी पत्रकारिता दिवस के अवसर पर प्रेस क्लब लालकुआं द्वारा जूम एप के माध्यम से कोरोना काल में पत्रकारों की भूमिका विषय पर वर्चुअल गोष्ठी में क्षेत्रीय सांसद अजय भट्ट, सेंचुरी पल्प एंड पेपर मिल के सीईओ जेपी नारायण, विधायक नवीन दुम्का, भाजपा जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट, अपर पुलिस अधीक्षक डॉ जगदीश चंद्र, उप जिलाधिकारी रिचा सिंह पुलिस क्षेत्राधिकारी प्रमोद शाह सहित तमाम जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों ने अपनी बात रखी ।

फोटो परिचय- पत्रकारिता दिवस पर प्रेस क्लब लालकुआं द्वारा आयोजित वर्चुअल संगोष्ठी में प्रतिभाग करते जनप्रतिनिधि अधिकारी एवं पत्रकार।

वहीं वरिष्ठ पत्रकारों ने युवा एवं जूनियर पत्रकारों को कोरोना काल में रिपोर्टिंग के गुर सिखाए।
हिंदी पत्रकारिता दिवस के अवसर पर प्रेस क्लब लालकुआं के तत्वावधान में संगोष्ठी का आयोजन किया गया। वर्चुअल गोष्ठी को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि क्षेत्रीय सांसद अजय भट्ट ने कहा कि कोरोना काल में पत्रकारों की भूमिका प्रशंसनीय है। उन्होंने कहा कि पत्रकार जिस प्रकार अपनी जान जोखिम में डालकर अपना कार्य संपादित कर रहे हैं इसके लिए बधाई के पात्र हैं। संसद भट्ट ने कहा कि राजनीति से पूर्व वह पत्रकारिता के क्षेत्र में ही थे जिससे वह भली-भांति पत्रकारिता के महत्व को समझते हैं। क्षेत्रीय विधायक नवीन दुम्का ने कहा कि कोरोना काल में पत्रकार स्वयं को बचाते हुये पत्रकारिता करे। विधायक ने कहा कि कोरोना काल के दौरान पत्रकार प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग को आईना भी दिखा रहे हैं। तथा जनप्रतिनिधियों को उनके कर्तव्य के प्रति जागरूक भी कर रहे हैं जो कि जागरूक पत्रकारिता है। भाजपा जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट ने कहा कि सच्चे कोरोना वॉरियर्स तो पत्रकार ही है क्योंकि वही देश दुनिया में कोरोना का क्या प्रभाव है जन-जन को बता रहे हैं।
यह भो पढ़े 👉 खाने में अगर आप कुछ नया ट्राई करना चाहते हैं तो जानिए अमरूद का हलवा बनाने की विधि
सेंचुरी पल्प एंड पेपर मिल के सीईओ जेपी नारायण ने कहा कि इसको कोरोना काल में सेंचुरी पेपर मिल परिस्थितियां विपरीत होने के बावजूद भी तमाम प्रकार से लोगों की मदद का बीड़ा उठाए हुए हैं। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में इंफ्रास्ट्रक्चर की अत्यंत कमी है जिसे पूरा करने के लिए पत्रकारों की अहम भूमिका होगी, पत्रकार उक्त ग्रामीण अंचल को अपनी आंख बनाकर वहां का समुचित विकास करवा सकते हैं।
अपर पुलिस अधीक्षक डॉ जगदीश चंद्र ने कहा कि आज के समय में पत्रकार मजबूत विपक्ष के रूप में उभर रहा है उन्हें अपनी जिम्मेदारी समझते हुए समसामयिक समाज का दर्पण होने के नाते अपने कार्य का बखूबी निर्वहन करना है। उप जिलाधिकारी ऋचा सिंह ने कहा कि पत्रकार समाज का दर्पण है वह प्रशासन को भी मनोबल ऊंचा रखने के लिए प्रेरित करते हैं। पुलिस क्षेत्राधिकारी प्रमोद शाह ने कहा कि आज पत्रकारों को एकजुट होकर अपने हितों के लिए संघर्ष करने एवं अपने आप को चौथे स्तंभ के रूप में वास्तविक रूप से स्थापित करने की जरूरत है।
लगभग 4 घंटे चली वर्चुअल संगोष्ठी के दौरान तमाम वरिष्ठ पत्रकारों ने जूनियर एवं युवा पत्रकारों को कोरोना काल मे रिपोर्टिंग करने को लेकर प्रशिक्षित किया। कार्यक्रम के अंत में प्रेस क्लब के अध्यक्ष बीसी भट्ट ने सभी आगंतुक अतिथियों एवं अधिकारियों का आभार जताया साथ ही कोरोना कॉल में दिवंगत हुए पत्रकारों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए 2 मिनट का मौन धारण किया गया।
गोष्ठी में उत्तराखंड श्रमजीवी पत्रकार यूनियन के जिलाध्यक्ष डॉ विपिन चंद्रा, नगर पंचायत अध्यक्ष लालकुआं लाल चंद्र सिंह, नगर अध्यक्ष रणजीत बोरा, महामंत्री दीप जोशी, वरिष्ठ पत्रकार तेजपाल नेगी, रमाकांत पंत, बसंत पांडे, दिनेश पांडे, अजय उप्रेती, गीता भट्ट, प्रमोद बमेटा, राजू अनेजा, अभिसेक सिंह, संजय जोशी, योगेश दुम्का, पंकज पांडे सहित कई पत्रकार मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन पत्रकार प्रकाश जोशी ने किया।
फोटो परिचय- पत्रकारिता दिवस पर प्रेस क्लब लालकुआं द्वारा आयोजित वर्चुअल संगोष्ठी में प्रतिभाग करते जनप्रतिनिधि अधिकारी एवं पत्रकार

Ad