तीन करोड़ का बीमा, 45 करोड़ की जमीन… राज मिस्त्री के प्रेम में करोड़पति टीचर की कातिल पत्नी की करतूतें

खबर शेयर करें -

कानपुर में करोड़पति टीचर की पत्नी का एक राज मिस्त्री से अफेयर हो गया. जब यह बात टीचर को पता चली तो दोनों में विवाद होने लगा. टीचर की पत्नी के सिर पर प्यार का भूत इस कदर चढ़ा कि उसने अपने पति की हत्या की साजिश रच डाली.

इसके बाद प्रेमी के साथ मिलकर चार लाख रुपये में पति की हत्या की सुपारी दे दी. सुपारी लेने वालों ने टीचर को मॉर्निंग वॉक के समय कार से कुचलकर मार डाला. टीचर की पत्नी की नजर पति की तीन करोड़ की बीमा पॉलिसी के साथ ही 45 करोड़ की संपत्ति पर थी.

जानकारी के अनुसार, राजेश गौतम की शादी साल 2012 में पिंकी से हुई थी. राजेश सरकारी टीचर होने के साथ साथ प्रॉपर्टी का काम भी करते थे. उनके पास पैतृक संपत्ति के साथ ही करीब 45 करोड़ रुपये की प्रॉपर्टी थी. राजेश ने साल 2021 में कानपुर के कोयलानगर में एक प्लॉट पर निर्माण शुरू कराया था. इसके लिए उनका संपर्क पुराना शिवली रोड जगतपुरी के रहने वाले राज मिस्त्री शैलेंद्र सोनकर से हुआ.

शैलेंद्र ने राजेश के प्लॉट पर निर्माण कार्य शुरू कर दिया. इसी सिलसिले में उसका राजेश के घर भी आना-जाना होने लगा. धीरे-धीरे शैलेंद्र की बातचीत टीचर राजेश की पत्नी पिंकी से होने लगी. पिंकी दिखने में सुंदर है. उसने बीएड कर रखा है. राज मिस्त्री शैलेंद्र मन ही मन पिंकी को पसंद करने लगा. उसके हावभाव देख पिंकी भी उसे चाहने लगी और धीरे धीरे दोनों के बीच संबंध बन गए.

इस बारे में करीब आठ महीने पहले पिंकी के पति राजेश को शैलेंद्र और पत्नी पिंकी के बीच अफेयर का पता चल गया था. इसके बाद राजेश ने शैलेंद्र का घर आना जाना बैन कर दिया. इस बात से पिंकी को ऐतराज था. पिंकी का राजेश के साथ अक्सर विवाद भी होने लगा था.

बताया जा रहा है कि पिंकी ने एक बार राजेश के खाने में जहर भी दे दिया. इसके बाद राजेश की हालत बिगड़ी तो उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया. इलाज के बाद राजेश की हालत में सुधार हुआ और जान बच गई थी.

इसके बाद पिंकी जब राज मिस्त्री शैलेंद्र सोनकर से नहीं मिल पा रही थी तो वह परेशान रहने लगी. उसने शैलेंद्र के साथ मिलकर पति राजेश को रास्ते से हटाने का प्लान बना लिया. राजेश के नाम तीन करोड़ का बीमा था. पिंकी की नजर पति की तीन करोड़ की बीमा पॉलिसी के साथ ही 45 करोड़ की संपत्ति पर थी. लिहाजा उसने प्रेमी शैलेंद्र के साथ फुलप्रूफ प्लान बनाया. इधर शैलेंद्र ने अपने ममेरे भाई विकास और एक साथी सुमित कठेरिया को चार लाख रुपये में राजेश की हत्या की सुपारी दे दी.

हत्या को हादसे का रूप देने के लिए कार से कुचला

आरोपी शैलेंद्र और अन्य टीचर राजेश की हत्या को हादसे का रूप देना चाहते थे. इसलिए कार से रौंदकर मारने का प्लान बनाया. टीचर राजेश हर रोज मॉर्निंग वॉक पर जाते थे. सुपारी लेने वाले सुबह के समय ही कार चढ़ाकर मार देना चाहते थे. बीते चार नवंबर की सुबह साढ़े पांच बजे राजेश स्वर्ण जयंती विहार में टहलने निकले थे. उसी दौरान सुमित कठेरिया और शैलेंद्र इको कार से पहुंचे और राजेश को कार से रौंद दिया.

इसके बाद कार आगे जाकर एक पोल से टकरा गई. इसी दौरान शैलेंद्र ने पीछे से दूसरी कार से आ रहे विकास को कॉल किया और उसकी कार बुलाकर उसमें बैठकर चले गए. इस घटना को पुलिस शुरू में हादसा ही मान रही थी. पुलिस को लगा कि मॉर्निंग वॉक पर इस तरह की घटनाएं हो जाती हैं. पुलिस इसे दुर्घटना मान रही थी, लेकिन टीचर राजेश के परिजन हत्या की बात कह रहे थे.

राजेश के भाई ने जताई थी हत्या की आशंका

राजेश के भाई ब्रह्मदत्त ने कहा कि भाई की हत्या की गई है, क्योकिं कुछ दिन पहले भाई ने कहा था कि कोई मेरा पीछा करता है, मेरी हत्या हो सकती है. इस पर पुलिस ने जांच शुरू की तो पुलिस के हाथ एक सीसीटीवी लगा. इस सीसीटीवी में दिखा कि जिस गाड़ी से राजेश को टक्कर मारी गई, और जिससे आरोपी भागे थे, वो दोनों गाड़ियां पहले एक साथ एक जगह पर नजर आई थीं. इसके बाद पुलिस ने हत्या की धाराओं के तहत केस दर्ज कर जांच शुरू की. पुलिस ने जब कार में लगी नंबर प्लेट की जांच की तो वह फर्जी निकली.

पिंकी ने खा लिया था जहरीला पदार्थ

पुलिस राजेश की पत्नी पिंकी से भी पूछताछ करने पहुंची थी. पिंकी ने उस समय जहरीली चीज खा ली थी, जिससे उसकी हालत बिगड़ने पर अस्पताल में भर्ती कराया गया था. इस समय पुलिस उससे पूछताछ नहीं कर पाई थी. वहीं पुलिस ने जब जांच की तो सुमित कठेरिया और शैलेंद्र के ममेरे भाई विकास का नंबर घटनास्थल पर एक्टिव मिला. साथ ही पुलिस ने राजेश की पत्नी पिंकी की कॉल डिटेल निकलवाई तो पता चला कि उसकी शैलेंद्र सोनकर से वारदात वाले दिन बात हुई थी.

राज मिस्त्री शैलेंद्र और पिंकी से पुलिस ने की पूछताछ तो खुला राज

इसके बाद पुलिस ने शैलेंद्र को पकड़कर उससे पूछताछ की. वहीं अस्पताल से लौटने के बाद पुलिस टीम मृतक टीचर राजेश की पत्नी पिंकी से भी पूछताछ करने पहुंची. दोनों से जब सख्ती से पूछताछ की गई तो पूरे मामले का खुलासा हो गया. पुलिस ने पिंकी के साथ ही राज मिस्त्री शैलेंद्र और उसके ममेरे भाई विकास को गिरफ्तार कर लिया है. वहीं सुमित अभी फरार है. उसकी तलाश की जा रही है.

पिंकी ने दो मासूम बच्चों का भी नहीं रखा ख्याल

पुलिस का कहना है कि पिंकी ने कहा है कि उसके पति राजेश को उसके और शैलेंद्र के संबंधों का पता चल गया था. इसलिए उसे रास्ते से हटाने का प्लान बनाया. राजेश के नाम तीन करोड़ का बीमा था. इसलिए राजेश की हत्या को एक्सीडेंट दिखाकर वो पैसा हासिल करना चाहती थी. वहीं राजेश की 45 करोड़ की जमीन को भी पा लेना चाहती थी. इसके बाद पिंकी शैलेंद्र से शादी कर साथ रहना चाहती थी. पिंकी के दो छोटे-छोटे बच्चे भी हैं, जिनका उसने कोई ख्याल नहीं रखा.