उत्तराखण्ड : ध्वज फहराते समय PCS अधिकारी को लगी गोली, पर तिरंगा फहरा – राष्ट्रगान पूरा कर ही अस्पताल गया घायल निदेशक

खबर शेयर करें -

शुक्रवार को जब पूरा देश गणतंत्र दिवस मना रहा था, ठीक उसी वक्त देहरादून में एक ऐसी घटना हो गई, जिसने हर किसी को सिहरा दिया। यहां डोईवाला शुगर मिल में ध्वज फहराते समय सुरक्षाकर्मी से गलती से गोली चल गई। गोली सीधे शुगर मिल के अधिशासी निदेशक दिनेश प्रताप सिंह के पेट में लग गई। जिससे वे घायल हो गए हैं।

मामले में आरोपी सुरक्षा कर्मी को निलंबित कर दिया गया है। मामले में सुरक्षाकर्मी की बड़ी लापरवाही सामने आई है। सुरक्षाकर्मी से चली गोली के छर्रे सीधे शुगर मिल के अधिशासी निदेशक दिनेश प्रताप सिंह के पेट और हाथ में जा लगे थे, जिससे वो घायल हो गए। आपको सबसे ज्यादा हैरानी इस बात से होगी कि गंभीर रूप से घायल होने के बाद भी पीसीएस अफसर दिनेश प्रताप सिंह ने न सिर्फ तिरंगा फहराया बल्कि राष्ट्रगान भी पूरा किया।

घायल होने के बाद भी पीसीएस अफसर दिनेश प्रताप सिंह खड़े रहे और इसके बाद कर्मचारियों को संविधान के प्रति शपथ भी दिलाई। इस बीच दिनेश प्रताप को जब दर्द अधिक होने लगा तो उनको अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं, पूरे मामले को लेकर मिल प्रशासन टीम की बैठक बुलाई गई और सीसीटीवी कैमरे चेक किए गए जिसमें सुरक्षा कर्मी की बड़ी लापरवाही देखने को मिली। उसके खिलाफ जांच बैठा दी गई है, साथ ही सुरक्षाकर्मी को बर्खास्त भी कर दिया गया है। इस बड़े हादसे के बाद अब शुगर मिल में ध्वज फहराने के बाद हर्ष फायरिंग की परंपरा को खत्म किया जाएगा। सुरक्षा कर्मी के हाथ से जब गोली चली तो बंदूक में झटका लगने से बंदूक का मुंह जमीन की ओर हो गया। जिस पर गोली जमीन से टकराकर उसके छर्रे आसपास हवा में बिखर गए। गनीमत यह रही की गोली चलने से पूर्व बंदूक का मुंह जिस और था उस और सीधी गोली नहीं चली। अन्यथा एक बड़ी घटना घट सकती थी।