शौक पूरे करने के लिए इस हद तक गिर गए चार दोस्त, खेत में मिला कंकाल; नोच रहे थे कुत्ते

खबर शेयर करें -

निधौली कलां एटा के होर्ची गांव के निवासी लालता प्रसाद फरीदाबाद में रहकर टैक्सी चलाते थे। 20 सितंबर को 4 लोगों ने मुरैना के लिए 8 हजार रुपये के भाड़े पर टैक्सी बुक की थी। इसके बाद पुलिस ने 22 सितंबर को बाह होलीपुरा मार्ग पर खंदक में क्षतिग्रस्त टैक्सी बरामद की थी। उसी दिन बरहन के रहने वाले बहनोई गजेंद्र सिंह ने बाह थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी।

25 सितंबर को पिनाहट में चंबल नदी के किनारे खेत के गड्ढे में दबे एक व्यक्ति के शव को कुत्ते नोंच रहे थे। पुलिस ने पोस्टमार्टम कराया तो पता चला कि मृतक की सिर में गोली मारकर हत्या की गई है। सोमवार को परिजनों ने मृतक की पहचान लालता प्रसाद के रूप में की थी। मंगलवार को पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर टैक्सी लूट के लिए चालक लालता प्रसाद की हत्या किए जाने का खुलासा किया।

पकड़े गए आरोपियों में आगरा में निबोहरा के रैपुरा गांव के विश्व प्रकाश उर्फ गोलू, नीचाखेड़ा के संजय, बिजकौली के करन उर्फ पोला ने पुलिस को बताया कि अपने शौक-मौज पूरे करने और एशो आराम के लिए लूट की पहली वारदात को अंजाम दिया और वे पकड़े गए। मृतक का मोबाइल खरीदने के मामले में धौलपुर के जगमोहनपुरा का मुलायम भी पकड़ा गया। उसने फरार आरोपी अपने चचेरे भाई पवन उर्फ झैंपा से मोबाइल खरीदा था। प्रभारी निरीक्षक बाह कुलदीप दीक्षित, थानाध्यक्ष पिनाहट नीरज पवार ने बताया कि चौथे आरोपी की तलाश की जा रही है। जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा।